शौक है

गुत्थे सुलझाने का,
धुँध में गुम हो जाने का,
शौक है

किस्से सुनाने का,
गीत गुन-गुनाने का,
शौक है

गिर के उठ जाने का,
बस चलते जाने का,
शौक है

खुशियों में डूब जाने का,
मीठे आंसू बहाने का,
शौक है

माटी पर नंगे पैर चलते जाने का,
बाँए से दाँय मुड जाने का,
शौक है

लम्बी साँसों में खो जाने का,
उड़ते-उड़ते सो जाने का,
शौक है

बेदखल लिखते जाने का,
लफ़्ज़ों में खो जाने का,
शौक है

और शौकीनों संग मुस्कुराने का,
कहीं दूर पहुँच जाने का,
शौक है

अँधेरे में दिख जाने का,
उजाले में छिप जाने का,
शौक है

सूरज को छू जाने का,
बेवजह थक जाने का,
शौक है

और शौक़ीन हो जाने का,
मुस्कुराते जाने का,
बस, ज़िन्दगी जीते जाने का,

शौक है
शौक है
शौक है...



Comments

Anonymous said…
waah waah.. director saahab... yuhee likhte jaaaiye..:)

Popular posts from this blog

'Busy'?

Think...

A fiction